भारत और सुपर कम्प्यूटर

सुपर कम्प्यूटर-
सुपर कम्प्यूटर दुनिया का सबसे तेज कम्प्यूटर  है जो डेटा को बहुत तेज़ी से प्रोसेस कर सकता है। एक जनरल पर्पस कम्प्यूटर की तुलना में “सुपर कम्प्यूटर” के कंप्यूटिंग परफॉरमेंस को बहुत अधिक मापा जाता है।

सुपर कम्प्यूटर का इस्तेमाल?
सुपर कम्प्यूटर ज्यादातर जटिल, गणित सम्बंधित साइंटिफिक प्रॉब्लम, नुक्लेअर मिसाइल के टेस्ट सम्बंधित कार्य ,मौसम का हाल बताना, पर्यावरण को समझना और सिक्योरिटी की मजबूती जांचना आदि कार्य के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

भारत के सुपर कम्प्यूटर का इतिहास-
1. 1980 के दशक तक भारत के पास अपना सुपर कम्प्यूटर  नहीं था वह ऐसा दौर था जब भारत में तकनीकी युग की शुरूआत हो चुकी थी भारत अमेरिका से सुपर कम्प्यूटर  लेना चाहता था ले‍किन अमेरिका ने भारत को सुपर कम्प्यूटर देने से इंकार कर दिया।
2. भारत ने तय किया की वो अपना सुपर कम्प्यूटर  खुद बनाएंगे।
3.1988 में सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस्ड कंप्यूटिंग (सी-डैक) की स्थापना की गई।
•  निदेशक के रूप में इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग के डॉ विजय भाटकर को बनाया गया।
•  डॉ विजय भाटकर –  भारतीय सुपर कम्प्यूटर के जनक

परम 8000 –
• परम शब्द संस्कृत भाषा  से लिया गया है जिसका मतलब होता है सुप्रीम यानी कि सबसे ऊपर।
• सीडैक को 3 साल का समय  लगा ।
•  सुपर कम्प्यूटर को बनाने  के लिए 30 करोड रुपए की शुरुआती लागत आई ।
•  भारत  के  सुपर कम्प्यूटर में लगभग उतना ही समय और पैसा लगा, जितना अमेरिका से सुपर कम्प्यूटर को खरीदने में लगने वाला था।
•  साल 1990 में C-DAC द्वारा सुपर कम्प्यूटर का प्रोटोटाइप मॉडल बना लिया गया और1990 में ज्यूरिख में हुए सुपर कंप्यूटिंग शो में यह कंप्यूटर एक बेंच मार्क बनकर उभरा।
•  भारत द्वारा बनाए गए परम 8000 के प्रोटोटाइप ने सुपर कंप्यूटिंग शो में दुनिया के लगभग सभी देशों के कंप्यूटर्स को पीछे छोड़ दिया
1 जुलाई साल 1991 में सामने आया PARAM 8000 सुपर कम्प्यूटर। यह भारत का अपना खुद का बनाया सुपर कम्प्यूटर था।

भारत के अन्य सुपर कम्प्यूटर- अमेरिका में ही कुल 233 सुपर कंप्यूटर्स हैं, जबकि भारत में इनकी संख्या सिर्फ 11 है।
• आदित्य
• परम युवा
• परम युवा द्वितीय
• सागा 220
• पेस
• वर्गो
• क्रे XC40
• भास्कर
• एका
• फ्लो सॉल्वर
• प्रत्यूष

जून 2020 तक, जब TOP500 सूची में सुपरकम्प्यूटर सिस्टम की संख्या के आधार पर रैंकिंग की गई, तो भारत दुनिया में 23 वें स्थान पर है। जून 2020 के दौरान क्रे एक्ससी 40 स्थित प्रत्यूष भारत में सबसे तेज सुपर कम्प्यूटर है।

for my articles-

https://akashbaani.com/author/ram12/

लेखक- राम नारायण विश्नोई

%d bloggers like this: