क्या आप गेम खेलने के आदी है या सोशल मीडिया पर समय का पता नही चलता है?

नई तकनीक के आवागमन के साथ हमारे जीवन में काफी सुधार हुआ है। सेल फोन या स्मार्ट फोन ऐसे आविष्कार हैं जिन्होनें हमारे जीवन का रास्ता बदल दिया है। लेकिन सवाल उस हिस्से पर है जहाॅं सेल फोन निश्चित रूप से वरदान है लेकिन क्या यह सही तरीके से उपयोग किया जाता है यह ध्यान देने योग्य बात हैं। एंड्राॅइड, आईफोन आदि के परिचय के साथ इंटरनेट और सोशल मीडिया का उपयोग और उपलब्धता बढ़ गई हैं। इसलिए हमारे दैनिक जीवन में सेल फोन के व्यापक उपयोग ने कुछ मुद्र्धो को बनाया है।

जैसे-

परिवार के साथ समय बिताने के जगह व्यक्ति अपने सेलफोेन पर समय बिताना ज्यादा पसंद करता है; इसलिए सोशल मीडिया का जितना फायदा हो रहा है, उतना ही नुकसान भी है; सभी तरह की जानकारी एक छोटे से सेलफोन पर उपलब्ध हो जाती है। आइये जानते है कि क्या लक्षण है व उनके उपाय, डाॅ पूजा कुलश्रेष्ठ, क्लीनिकल साइकोलाॅजिस्ट, अलीगढ के माध्यम से-

कैसे पहचाने स्मार्टफोन की लत है- आप को ?

कैसे पहचाने स्मार्टफोन या सोशल मीडिया की लत है- आप को ?
  • क्या आप रात के समय भी उठ-उठ कर अपना फोन चेक करते हैं?
  • काम के अलावा दिन के कितने घंटे आप स्मार्टफोन पर बिताते हैं?
  • क्या खाना खाते समय आपका ध्यान बार-बार अपने स्मार्टफोन की तरफ जाता हैं?
  • क्या आपको अचानक ही ऐसा महसूस होता है कि आपका फोन रिंग कर रहा है या कोई मैसेज आया है ?

अगर आप अपने बारे में या परिवारीजन आप के अन्दर ऐसा महसूस कर रहे है तो आप को सतर्क होने की जरूरत हैं।

उपाय-

  1. सबसे पहले अपनी लाइफ स्टायल पर ध्यान दीजिए। कितनी देर और किस तरह आप मोबाइल पर टाइम स्पेंड करते हैं।
  2. कितनी देर तक सोशल मीडिया का उपयोग या फिर चैंटिग करते है यह जानने की कोशिश करें। अगर यह आदत दिन पर दिन गंभीर हो रही है तो आप को अपने फोन से दूरी बनानी शुरू करनी है।
  3. खुद को ’नो’ कहने की आदत डालें। अगर दिन भर में तीन घंटे फोन इस्तेमाल करते हैं तो उसे घटाकर एक-दो घंटे कर दें।
  4. जिस जेब व पर्स के पाॅकेट में आप फोन रखते है या रखती है, उसकी जगह कुछ दिन के लिए बदल दें। इससे वह तुरंत आपके हाथों में आने से बचेगा और हो सकता है कि इस बीच आप किसी और काम में व्यस्त हो जाएँ।
  5. स्मार्टफोन की सेटिंग्स में जाकर नोटिफिकेशन बंद कर दें। इससे बार-बार आपका ध्यान फोन के नोटिफिकेशन पर नही जायेगा। यदि किसी को आपसे कोई जरूरी काम होगा तो वह आपको सीधे काॅल कर लेगा।
  6. दिन के कुछ घंटे आप अपना डाटा आॅफ रखें। इससे आपका मन बार-बार फोन देखने के लिए नही ललचाएगा और बैटरी की भी बचत होगी।

उपरोक्त के आलावा

जब आप फोन और सोशल मीडिया से थोड़ी दूरी बनाकर चलेंगे तो स्वतः ही आपका मन दूसरे पसंदीदा कामों में लगने लगेगा।साथ ही आप कई अन्य तरह की परेशानियों से भी बच जाएंगे

अपने फोन को चैक करने का समय निश्चित करें, उसी दौरान आप सभी अपडटे्स देख ले, बार-बार देखने से भी आपके काम की ज्यादा अपडटे्स जल्दी आ जायेगी तो ऐसा होता नही है।

अगर हम/मैं पक्का मन बना ले कि सुबह उठते ही/या एक बार चैक करने के बाद कुछ घंटे फोन से दूर रहेंगे और रात को सोने के कुछ घंटे पहले ही फोन को दूर रख देंगे।


जब आप फोन और सोशल मीडिया से थोड़ी दूरी बनाकर चलेंगे तो स्वतः ही आपका मन दूसरे पसंदीदा कामों में लगने लगेगा।साथ ही आप कई अन्य तरह की परेशानियों से भी बच जाएंगे। गाड़ी चलाते वक्त भी फोन एक तरफ रख दें।

नयी आदत बनाये जैसे- किताब पढने की आदत, हाॅबी को समय दें इत्यादि।

हमें उम्मीद है कि आपको यह लेख अवश्य पसंद आया होगा । इस पर आपके क्या विचार हैं ? हमें कमेंट में जरूर बताएं ।


संपादनआयुष जोशी

हमारे अन्य लेख पढ़ें गणतंत्र दिवस पर किसानों का विरोध

विशेष छवि श्रेयबैंक माय सेल

Ayush Joshi
Mr. Joshi is one of the vital members of Akashbaani for the last 8 months. His writings cover Books, Space, Technology, and most importantly trending news around the globe. Above all, he is working relentlessly so that Akashbaani can see new horizons each day.